add

Latest lyrics

Badsha - Toxic | Jab tu nhi tha | Ek tere pyar ne ese diye jakham lyrics | Payal Dev Ravi Dubey Sargun | sony


After super hit - "Genda Phool", Badshah & Payal are back again with soul-stirring  Toxic. This beautiful song has been written by Badshah & Composed by Payal. With limited resources available, The home shot video has been directed by Ravi Dubey. The TOXIC song is written by Badshah. starring in this song EK TERE PYAR NE DIYE JAKHAM song  Badshah and Payal dev Badshah -Toxic | Payal Dev | Ravi Dubey |Sargun Metha | Official Music Hit song 2020.






Song: Toxic

Artist: Badshah & Payal Dev

Starring: Sargun Mehta, Ravi Dubey, Badshah & Payal Dev.

Lyrics: Badshah

Compose: Payal Dev

Music Production: Aditya Dev

Mix & Master: Aditya Dev

Directed By: Ravi Dubey

Video Edit: Jagjeet Singh Dhanoa

Creatives: ViggfxLabel , Sony Music India




TOXIC | JAB TU NHI THA | TERE PYAR NE DIYE JAKHAM LYRICS - BADSHAH AND PAYAL DEV


जब तूं नहीं था यहाँ तो गम नहीं था
आदत तेरी लगने तक सब कुछ सही था
आया तूं जिन्दगी में बनके सितमसा  
हाँ एक सितामसा...
एक तेरे प्यार नें ऐसे दिए जखम
नां ही तो जी सके नां ही मरे हैं हम
एक तेरे प्यार नें ऐसे दिए जखम
नां ही तो जी सके नां ही मरे हैं हम
एक तेरे प्यार नें
जिस दिन पहली बार देखा तुझको
कोसुं उस दिन को मै
क्यों लड़ते है हम  इसका जबाब दूँ क्यों तुमको मै
आखें चहरे में धस गई है कोई रोनक नहीं
लगता हूँ साइको मिलता हूँ जिन जिन को मै
छोटी छोटी बातों पे लड़ने का मन करे
जिससे भी मिलूं मै झगड़ने का मन करे
रहती एक एक्जाइटीसी चोवीस घंटे मरने का मन करे
क्यों है इतनी गन्दगी ना तुझको पता ना मुझको पता
कुछ तो वजह है की तेरे मेरे बीच में तूं ये मुझको बता
मुझको बता .....  ..... ......
मै तुझसे प्यार करना चाहता हूँ पर और नहीं हो पा रहा
आँखें सुख गई है मेरी और नहीं हो पा रहा
चाहता हूँ की आंसू आये आने बंद हो गए हैं
कुछ तो जादू है जो रस्ते सारे बंद हो गए हैं
लड़ना भी मै चाहता हूँ खा के कहता हूँ कसम
इस बहाने अपने में कुछ तो रहेगा कम से कम
तूं मुझको गाली दे तूं मुझपे चिल्लाये मुझपे चीखे तूं
लड़के घर से बाहर जाये मै आऊँ तेरे पीछे
वाट्सअप पे मुझको और मेरी फैमिली को ब्लाक कर
मुझे गन्दी गन्दी बातें बोल खुद को रूम में लॉक कर
मै खड्काता रहूँ दरवाजा और तूं खोले ना
मै खोलने को बोलता रहूँ तु कुछ बोले नां
तूंने ये किया तो मै ये कर लूँगा हम चिल्लाये
दोनों को इक दूजे की फिर गलतियाँ हम गिनवाये
थक कर फिर रोते रोते रोते दोनों सो जांए
क्यों ना इक दूजे हम फिर अनजाने हो जायें
छोटी छोटी बातें अब अंदर से खाने लगी हैं
जान अब मेरे अंदर से जाने लगी है
दोनों में नेगेटिविटी हर रोज आने लगी है
पहले प्यार आया करता था अब घिन आने लगी है            
पहले प्यार आया करता था अब घिन आने लगी है
पहले प्यार आया करता था अब घिन आने लगी है
एक तेरे प्यार नें ऐसे दिए जखम
नां ही तो जी सके नां ही मरे हैं हम
एक तेरे प्यार नें ऐसे दिए जखम
नां ही तो जी सके नां ही मरे हैं हम
एक तेरे प्यार में
हम ही ने बनाया जो हम ही से बिखर गया
आओ नई ईटों से वही आशियाना बनायें





No comments

If you have any doubt, please contact me